Breaking News
Home / Trending News / पी. चिदंबरम को रास नहीं आ रहा तिहाड़ जेल, इस तरह गुजर रही पूरी दिनचर्या

पी. चिदंबरम को रास नहीं आ रहा तिहाड़ जेल, इस तरह गुजर रही पूरी दिनचर्या

यह तो आप सभी को पता ही होगा कि आईएनएक्स मामले में पूर्व वित्तमंत्री चिदम्बरम को सजा हो गई है। जानकारी के लिए बता दें कि ये आजकल तिहाड़ जेल में बंद हैं, जी हां उन्हें तिहाड़ की जेल संख्या-7 में रखा गया है।

वहीं अब खबरें आ रही हैं कि चिदंबरम को जेल में कई तरह की समस्या हो रही है, उनकी शिकायत है कि वो यहां  गर्मी, उमस और बदबू से परेशान हो गए हैं। इतना ही नहीं चिदंबरम को जेल की रोटियां भी पसंद नहीं आ रही हैं उनका कहना है कि वो खाने में दाल-चावल से ही काम चला रहे हैं क्योंकि रोटी तो उनसे ख़्वाया ही नही जा रहा है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस जेल में चिदंबरम विचाराधीन कैदी नंबर 1449 बने हैं।

वैसे तिहाड़ जेल में आने वाली बदबू के पीछे का कारण जेल में कैदियों की ज्यादा संख्या को माना जा रहा है। जानकारी के अनुसार बताते चलें कि तिहाड़ की जेल संख्या-7 में कैदियों को रखने की क्षमता 350 है, जबकि मौजूदा वक्त में इस जेल में 650 के करीब कैदी बंद हैं। इनमें सजायाफ्ता और विचाराधीन कैदी दोनों मौजूद हैं।

जेल के अधिकारियों की माने तो वहां जेल में होते हुए भी चिदंबरम का टाइम टेबल पूरी तरह से सेट है। वह समय से सोते हैं और समय से ही जागते हैं। खाना भी चिदंबरम समय से ही करते हैं। इतना ही नही इसके  अलावा कहा जा रहा है कि चिदंबरम जेल लंगर से मिली वैसे तो हर चीज खा लेते हैं, लेकिन देखने में आया है कि वह रोटियों से थोड़ा परहेज करते हैं। वही आपको बताते चलें कि जेल में चिदंबरम आमतौर पर खाने में दाल-चावल ज्यादा खाते हैं। वहीं नाश्ते में चिदंबरम चाय, ब्रैड और पोहा खाना पसंद करते हैं।

ये तो हो गई खाने पीने की बात अब बात करते हैं उनके रोजमर्रा की दिनचर्या की तो  जेल में आने के बाद से चिदंबरम ने किसी तरह की कोई फरमाइश नहीं की है। वह अक्सर अपना समय किताबें और अखबार पढ़कर बीताते हैं। यह भी सक्छ है की इस तिहाड़ की जेल संख्या 7 में ही कश्मीर के अलगाववादी नेता यासीन मलिक भी बंद हैं। हालांकि यासीन मलिक और चिदंबरम की सेल काफी दूर-दूर हैं। जेल में आने के बाद से चिदंबरम ने अभी तक शायद ही किसी कैदी से बात की हो।

इसके अलावा बताया जा रहा है कि उस जेल में  चिदंबरम के जेल में बंद रहने के चलते तिहाड़ की जेल संख्या 7 की सुरक्षा व्यवस्था काफी कड़ी कर दी गई है। इसी के चलते यह ख्याल रखा जाता है कि जब चिदंबरम अपनी सेल से बाहर हों तो उस समय में किसी अन्य कैदी को सेल से बाहर नहीं रखा जाता है। चिदंबरम की सेल में कोई टीवी नहीं लगा है और एक कॉमन गैलरी में ही टीवी लगा है।

जो भी हो चिदंबरम को तकलीफ तो हो ही रही है। वहीं ये भी बता दें कि चितम्बरम की स्थिति काफी दयनीय है लगता है कि जेल की हवा उन्हें रास नहीं आ रही है।

About puja kumari

Check Also

लैंडर विक्रम से संपर्क टूटने के बाद बेचैनी में क्या कर रहे थें पीएम मोदी, वैज्ञानिकों से पता चल गया

आजकल चंद्रयान 2 को लेकर हर तरफ चर्चा हो रही है जिस दिन यह मिशन …