Breaking News
Home / Uncategorized / अगर आप भी गलती से करते है राक्षसी स्नान, तो आज से ही बदल दे अपनी यह आदत

अगर आप भी गलती से करते है राक्षसी स्नान, तो आज से ही बदल दे अपनी यह आदत

यूँ तो हिन्दू धर्म में ऐसी बहुत सी बातें बताई जाती है, जिनका पालन हमें जरूर करना चाहिए. मगर आज के समय में बहुत कम लोग ऐसे होंगे जो हिन्दू धर्म से जुडी बातों पर यकीन करते होंगे. हालांकि ऐसा कहा जाता है कि जो व्यक्ति हिन्दू धर्म में बताई गई बातों को अपने जीवन में अपनाता है वो हमेशा सुखी ही रहता है. वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दे कि जिस तरह से हिन्दू धर्म में हर चीज का अलग महत्व होता है. ठीक उसी तरह से हिन्दू धर्म में स्नान करने का भी खास महत्व होता है. जी हां आपकी जानकारी के लिए बता दे कि हिन्दू धर्म में मौजूद शास्त्रों में स्नान के महत्व के बारे में काफी गंभीरता से बताया गया है.

दरअसल धार्मिक शास्त्रों में स्नान को पवित्रता से भी जोड़ कर भी देखा जाता है. शायद यही वजह है कि हर इंसान स्नान करने के बाद एकदम स्वच्छ हो कर ही पूजा पाठ करता है. वैसे भी स्नान करने से इंसान का शरीर एकदम साफ़ सुथरा हो जाता है. इससे शरीर में सकारात्मक ऊर्जा भी पैदा होती है. गौरतलब है कि जो लोग आमतौर पर हर रोज स्नान करते है, वो हमेशा स्वस्थ ही रहते है.

हालांकि आप में से बहुत से लोग ऐसे भी होंगे जो स्नान करने के सही समय के बारे में नहीं जानते होंगे. यानि अगर हम सीधे शब्दों में कहे तो हम में से बहुत से लोग ऐसे होंगे जो अपना काम खत्म करने के बाद किसी भी समय स्नान करने लगते है. यहाँ तक कि कुछ लोग तो दोपहर को बारह बजे भी स्नान करते है. इसलिए आज हम आपको स्नान से संबंधित कुछ जरुरी बातों के बारे में बताना चाहते है. हमें यकीन है कि इन बातों को जानने के बाद आप स्नान करने का सही समय और इसका महत्व भी जरूर समझ जायेंगे.

स्नान करने का सही समय ..

बरहलाल हिन्दू धर्म के अनुसार ऐसा माना जाता है, कि जो व्यक्ति सूर्य उदय होने से पहले स्नान करता है वह हमेशा खुश रहता है. जी हां आपकी जानकारी के लिए बता दे कि व्यक्ति को हमेशा सुबह के समय सूर्य उदय होने से पहले स्नान करना चाहिए. इससे आपके जीवन में सुख समृद्धि हमेशा बनी रहती है. इसके इलावा सुबह के समय सूर्य उदय होने से पहले किए गए स्नान को देव स्नान भी कहा जाता है. इसलिए अगर हो सके तो सुबह सूर्य उदय होने से पहले ही स्नान करे. बरहलाल ऐसा कहा जाता है कि जो व्यक्ति सूर्य उदय होने से कुछ समय पहले ही स्नान करता है, उसे आर्थिक लाभ होता है.

जी हां इससे आपकी आर्थिक स्थिति पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है. यानि सूर्य उदय से पहले किया गया स्नान आपके लिए खुशियां लेकर आ सकता है. वही जो लोग सूर्य उदय होने के बाद स्नान करते है उन्हें कोई लाभ नहीं होता. जी हां बता दे कि सूर्य उदय होने के बाद किए गए स्नान को मानव स्नान कहा जाता है. इसका मतलब ये है कि मानव स्नान करने से व्यक्ति के जीवन में कोई अच्छा या बुरा बदलाव नहीं आता. वास्वत में इस स्नान का व्यक्ति के जीवन पर कोई असर नहीं होता.

क्या होता है राक्षसी स्नान..

इसके इलावा जो व्यक्ति सूर्य उदय होने के बाद और सूर्य के आसमान के बीचो बीच चढ़ जाने के बाद स्नान करता है. उसे राक्षसी स्नान कहते है. अब जाहिर सी बात है कि ऐसे व्यक्ति के जीवन पर स्नान करने का कोई सकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता. वास्तव में ऐसे व्यक्ति के जीवन में नकारात्मक प्रभाव पड़ना शुरू हो जाता है. यहाँ तक कि ऐसे लोगो के घर में कभी बरकत नहीं होती. ऐसे लोगो को जीवन में कई मुश्किलों का सामना करना पड़ता है.

बरहलाल हम उम्मीद करते है कि इसे पढ़ने के बाद आप स्नान करने के महत्व के बारे में अच्छी तरह से समझ गए होंगे.

About Rajni Goyal

Check Also

‘स्वर्ग’ फिल्म की ये अदाकारा 26 सालों से है एक्टिंग की दुनिया से दूर ,लेकिन आज भी जीती है महारानियों की तरह जिंदगी , विदेश में रहती है फैमिली के साथ

हिंदी सिनेमा जगत में  एक से बढ़कर एक टैलेंटेड कलाकार रहे हैं जिन्होंने  बेहद ही …