Breaking News
Home / Trending News / 10 साल के बच्चे ने छोटे भाई को किडनेप होने से बचाया, ऐसे किया अपराधी का प्लान फ़ैल
छोटे भाई को किडनेप होने से बचाया

10 साल के बच्चे ने छोटे भाई को किडनेप होने से बचाया, ऐसे किया अपराधी का प्लान फ़ैल

आजकल बच्चों की किडनेपिंग की घटनाएँ कुछ ज्यादा बढ़ गई हैं. खासकर कि बड़े बड़े शहरों में तो इन बच्चों को बहला फुसला कर किडनेप कर लिया जाता हैं और फिर इन्हें बेचकर गलत धंधे में लगा दिया जाता हैं. ऐसी ही एक घटना मुंबई के थाणे इलाके में होने जा रही थी लेकिन एक 10 साल के बच्चे की बहादुरी और तेज़ दिमाग कि वजह से अपराधी के किडनेपिंग का प्लान फ़ैल हो गया. आइए विस्तार से जाने क्या हैं पूरा मामला…

दरअसल मुंबई के थाणे इलाके के जरीना अपार्टमेंट्स के नजदीक तीन बच्चे खेल रहे थे. तभी बुरखा पहने एक औरत आई और ढाई साल के बच्चे को चॉकलेट दिलाने का लालच देकर अपने साथ ले जाने लगी. जब ये अंजान औरत इस बच्चे को ले जा रही थी तो उसके 10 साल के बड़े भाई को शक हुआ और उसने औरत से पूछा कि वो उसके भाई को कहाँ ले जा रही हैं. ऐसे में औरत ने जवाब दिया कि वो बच्चे को चॉकलेट दिलाने ले जा रही हैं. इतना कहकर वो औरत बच्चे को लेकर जल्दी जल्दी जाने लगी. हालाँकि बच्चे का बड़ा भाई उस औरत का पीछा लगभग 8 मिनट तक करता रहा. बच्चे को अपने पीछे आता देख औरत और तेज़ी से चलने लगी लेकिन उसका पीछा कर रहे 10 साल के बच्चे ने भी हार नहीं मानी और अपनी चाल बढ़ाते हुए वो महिला का तेज़ी से पीछा करने लगा.

इस दौरान बच्चा बार बार महिला से पूछ रहा था कि वो उसके छोटे भाई को कहाँ ले जा रही हैं. इस पर महिला बिना कोई जवाब दिए और तेज़ी से आगे बढ़ने लगती. अब बच्चे को शक हो गया था. ऐसे में उसने पहले ही अपने 12 साल के एक भाई को परिवार वालो को बुलाने के लिए बोल दिया. इस बीच 10 साल के बच्चे ने राहगीरों को भी ये स्पष्ट कर दिया था कि ये महिला कोई गलत काम कर रही हैं. ऐसे में इन राहगीरों की मदद से उसके परिवार वाले जल्दी से महिला तक पहुँच गए.

बच्चे के परिवार और आस पड़ोस के लोगो को अपनी और आता देख और महिला डर गई और उसने बच्चे को वहीँ छोड़ दिया और खुद वहां से भाग गई. ये पूरी घटना वहां लगे एक सीसीटीवी कैमरा में भी कैद हो गई. इस सीसीटीवी से मिले फुटेज में साफ़ देखा जा सकता हैं कि बुरखा पहनी महिला बच्चे को गोद में लिए भाग रही हैं और उसके पीछे ये 10 साल का बच्चा बड़ी बहादुरी से पीछा कर रहा हैं. फिलहाल इस फुटेज के आधार पर मुंबई पुलिस किडनेपर का पता लगाने की कोशिश कर रही हैं.

वो तो भला हो इस 10 साल के बच्चे का जिसने अपना दिमाग चलाया और महिला का बहादुरी से पीछा करता रहा. वरना उसका छोटा भाई शायद हमेशा के लिए उससे दूर हो जाता. जानकारी के मुताबिक उस एरिया में शादी का फंक्शन होने की वजह से काफी भीड़ भी थी जिसकी वजह से महिला के लिए बच्चे को बिना किसी की नज़र में आएकिद्नेप करना आसान हो गया था.

बरहाल आप भी अपने बच्चे को ये जरूर सिखाए कि वो किसी भी अंजान व्यक्ति की बातों में ना आए और ऐसा कुछ हो तो जोर से शोर मचाए. इस तरह आपका बच्चा किसी अंजान व्यक्ति के हाथ लगने से बच सकता हैं.

About Ankit Pal

Check Also

शहीद सचिन का माँ को आखिरी पैगाम – माँ मेरा इंतज़ार मत करना मुझे दुश्मन को कुचलना है

एक माँ के लिए इससे ज्यादा दुःख की क्या बात होगी कि उसका जवान बेटा …